Ik Mulaqaat Lyrics - Ayushmann Khurrana & Nushrat Bharucha | Dream Girl


Ik Mulaqaat Lyrics From Hindi Film Dream Girl Starring Ayushmann Khurrana and Nushrat Bharucha. The song is sung by Altamash Faridi and Palak Muchhal. Music composed by Meet Bros while "Ek Mulaqat" Lyrics Written By Shabbir Ahmed. This is another Bollywood recreation based on Nushrat Fateh Ali Khan's Rashke Qamar.

Song: Ik Mulaqaat
Album: Dream Girl
Singer's: Altamash Faridi, Palak Muchhal
Lyricist: Shabbir Ahmed
Music: Zee Music Company
Starring: Ayushmann Khurrana, Nushrat Bharucha

Ik Mulaqaat Lyrics

Main Bhi Hoon Tu Bhi Hai Aamne Saamne
Dil Ko Behka Diya Ishq Ke Jaam Ne

Main Bhi Hoon Tu Bhi Hai Aamne Saamne
Dil Ko Behka Diya Ishq Ke Jaam Ne
Musalsal Nazar Barasti Rahi
Taraste Hai Hum Bheege Barsaat Mein

Ik Mulaqaat...
Ik Mulaqaat Mein, Baat hi Baat Mein
Unka Yun Muskurana Ghazab Ho Gaya
Kal Talak Jo Mere Khayalon Mein Thhe
Rubaru Unka Aana Ghazab Ho Gaya

Mohabbat ki pehli mulaqaat ka
Asar dekho na jaane kab ho gaya

Ik mulaqaat mein, baat hi baat mein
Unka yun muskurana ghazab ho gaya

Makhtalakh Dard ka kuch khayal nahi hai
Ik taraf main kahin, ik taraf dil kahin

"Aankho Ka Aetbaar Mat Karna
Ye Uthe Toh Katle Aam Karti Hain
Koi Inki Nigahon Pe Pehra Lagaao Yaaron
Ye Nigahon Se hi Khanzar Ka Kam Karti Hai"

Makhtabah Dard ka kuch khayal nahi hai
Ik taraf main kahin, ik taraf dil kahin
Ehsaas ki zameen pe kyun dhuaan uth raha
Hai jal raha dil mera kyun pata kuch nahi

Kyun khayalon mein kuch barf si gir rahi
Rait ki khwahishon mein nami bhar rahi
Musalsal nazar barasti rahi
Taraste hai hum bheege barsaat mein

Ek mulaqat...
Ik mulaqat mein, baat hi baat mein
Unka yun muskurana ghazab ho gaya
Kal talak jo mere khayalon mein thhe
Rubaru unka aana ghazab ho gaya

Ik Mulaqaat Lyrics in Hindi

मैं भी हूँ तू भी है आमने सामने
दिल को बहका दिया इश्क के जाम ने

मैं भी हूँ तू भी है आमने सामने
दिल को बहका दिया इश्क के जाम ने
मुसलसल नज़र बरसती रही
तरसते हैं हम भीगे बरसात में

इक मुलाक़ात..
इक मुलाक़ात में, बात ही बात में
उनका यूँ मुस्कुराना गज़ब हो गया
कल तलक वो जो मेरे ख्यालों में थे
रूबरू उनका आना गज़ब हो गया

मोहब्बत की पहली मुलाक़ात का
असर देखो ना जाने कब हो गया

इक मुलाक़ात में, बात ही बात में
उनका यूँ मुस्कुराना गज़ब हो गया

मख़तलब दर्द का कुछ ख्याल नहीं है
इक तरफ मैं कहीं, इक तरफ दिल कहीं

“आँखों का ऐतबार मत करना
ये उठे तो कत्लेआम करती हैं
कोई इनकी निगाहों पे पहरा लगाओ यारों
ये निगाहों से ही खंज़र का काम करती है”

मख़तलब दर्द का कुछ ख्याल नहीं है
इक तरफ मैं कहीं, इक तरफ दिल कहीं
एहसास की ज़मीं पे क्यूँ धुआँ उठ रहा
है जल रहा दिल मेरा क्यूँ पता कुछ नहीं

क्यूँ ख्यालों में कुछ बर्फ सी गिर रही
रेत की ख्वाहिशों में नमी भर रही
मुसलसल नज़र बरसती रही
तरसते हैं हम भीगे बरसात में

इक मुलाक़ात..
इक मुलाक़ात में, बात ही बात में
उनका यूँ मुस्कुराना गज़ब हो गया
कल तलक जो मेरे ख्यालों में थे
रूबरू उनका आना गज़ब हो गया

मोहब्बत की पहली मुलाक़ात का
असर देखो ना जाने कब हो गया

इक मुलाक़ात में, बात ही बात में
उनका यूँ मुस्कुराना गज़ब हो गया
हो.. ओ..

Written by:
Shabbir Ahmed

More Songs from 'Dream Girl'

Radhe Radhe
Dil Ka Telephone
Dhagala Lagali
Gat Gat

"IK MULAQAAT" Video Song:



Post a Comment

0 Comments